रायसेन

सॉची में पर्यटन मंत्री तथा स्वास्थ्य मंत्री ने पर्यटक सुविधा केन्द्र एवं बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क का लोकार्पण

रायसेन

सिटी म्यूजियम के माध्यम से बताया जाएगा आजादी का सच्चा इतिहास- पर्यटन मंत्री

पर्यटन के साथ ही भारतीय संस्कृति और आध्यात्म से जोड़ा

सिटी म्यूजियम के माध्यम से बताया जाएगा आजादी का सच्चा इतिहास- पर्यटन मंत्री

पर्यटन के साथ ही भारतीय संस्कृति और आध्यात्म से जोड़ा 

जाएगा पर्यटकों को- पर्यटन मंत्री

विश्व धरोहर स्थल के अनुरूप किया जाएगा सॉची का विकास- स्वास्थ्य मंत्री

 

रायसेन, 07 जनवरी 2021

 

पर्यटन, संस्कृति एवं अध्यात्म मंत्री तथा मप्र राज्य पर्यटन विकास निगम की अध्यक्ष सुश्री उषा बाबू सिंह ठाकुर और स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी द्वारा सॉची में बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क तथा पर्यटक सुविधा केन्द्र का लोकार्पण किया गया। यह बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क 25 करोड़ रूपए की लागत से तथा पर्यटक सुविधा केन्द्र पॉच करोड़ रूपए की लागत से निर्मित किया गया है। लोकार्पण कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन के साथ किया गया।

सॉची गेटवे रिट्रीट परिसर में आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम में पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर ने कहा कि बुद्ध जम्बू द्वीप पार्क एवं पर्यटक सुविधा केन्द्र के निर्माण से पर्यटकों को उच्च स्तरीय सुविधायें प्राप्त होंगी एवं पर्यटन में भी वृद्धि होगी। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक मूल्यों पर आधारित समाज के निर्माण के लिए संस्कृति, पर्यटन एवं अध्यात्म विभाग निरंतर काम कर रहा है। पर्यटकों को पर्यटन के साथ-साथ भारतीय संस्कृति और आध्यात्म का बोध कराने के लिए विभाग के आगामी कार्यक्रमों में इसे शामिल किया जा रहा है। मूल्यों पर आधारित समाज और राष्ट्रवाद की संकल्पना को धरातल पर उतारने का कार्य पर्यटन, संस्कृति एवं आध्यात्म विभाग कर सकता है।

पर्यटन मंत्री सुश्री ठाकुर आगामी वर्ष आजादी का 75वॉ वर्ष है। विभाग सिटी म्यूजियम के माध्यम से आने वाली पीढ़ी को सच्चा इतिहास बताना चाहता है। गुरूनानक देव की 550वीं जयंती है और गुरूओं की बलिदानी पावन परम्परा पर एक सुंदर संग्राहलय बनाया जाएगा जिससे कि आने वाली पीढ़ी देख सके, इसकी चिंता कर सके कि इस देश की आजादी, संस्कृतिक को बनाए रखने के लिए कितने बलिदान दिए हैं। उन्होंने कहा कि आने वाली पीढ़ी को कुम्भ का महत्व वैज्ञानिक दृष्टिकोण से समझाना होगा, तभी वे कुम्भ के महत्व को समझ पाएंगे।

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में सबसे ज्यादा प्रभावित पर्यटन विभाग रहा है, इसे उबारने के लिए कोरोना काल में भी रूरल स्टे, होम स्टे, एग्रो स्टे को बढ़ावा दे रहे हैं और भारत का पर्यटन तो अनादी काल से चला आ रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि हमें हमें स्प्रिच्युएबल टूरिज्म को बढ़ावा देना होगा और इसके लिए मप्र में मऊ विधानसभा के जानापाव पहाड़ी को चुना गया है। विभाग द्वारा कोरोना काल में लोगों के लिए अनेक प्रेरक फिल्में बनाई गई। विभाग ने 15 अगस्त को क्रांतिकारियों के 30 चित्र को पहचानने की प्रतियोगिता कराई, उन्होंने जीवन में क्या किया और आप उन जैसा देश के लिए क्या कर सकते हैं।  

 

विश्व धरोहर स्थल के अनुरूप किया जाएगा सॉची का विकास- स्वास्थ्य मंत्री

 

स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क में आने वाले पर्यटकों और लोगों को महात्मा बुद्ध के जीवन सिद्धांतों के बारे में जानकारी मिलेगी। उन्होंने कहा कि सॉची पर्यटन का प्रमुख केन्द्र है और यहां पर्यटकों की सुविधा के लिए विकास और सौन्दर्यीकरण के कार्य किए जा रहे हैं। इससे यहां पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और लोगों को रोजगार के नवीन अवसर प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि सॉची नगर का विकास, विश्व धरोहर पर्यटन स्थल के अनुसार करने के लिए काम किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। कल प्रदेश में ड्राय रन किया जाएगा जिसकी वे स्वयं भोपाल से मॉनीटरिंग करेंगे। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं और सुविधाओं का लगातार विस्तार किया जा रहा है। मरीजों का बेहतर ईलाज हो सके, इसके लिए सॉची तथा देहगॉव में डिजिटल एक्सरे मशीन उपलब्ध कराई गई है। ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को विशेषज्ञ चिकित्सकों की सेवाएं मिल सके इसके लिए दीवानगंज, सलामतपुर सहित चिन्हित स्वास्थ्य केन्द्रों पर टेलीमेडिसिन की सुविधा प्रारंभ की गई है। उन्होंने कहा कि सॉची में शासकीय स्कूल को उत्कृष्ट विद्यालय का दर्जा दिया गया है तथा स्कूल के निर्माण एवं विकास कार्यो के लिए पाठ्य पुस्तक निगम से एक करोड़ रूपए की व्यवस्था की गई है। इस अवसर पर सॉची जनपद अध्यक्ष श्री एस मुनियन, जिला भाजपा अध्यक्ष डॉ जयप्रकाश किरार, मण्डल अध्यक्ष श्री संतोष शर्मा, अपर कलेक्टर श्री अनिल डामोर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री अमृत मीणा, एसडीएम श्री एलके खरे, पर्यटन विकास निगम के मुख्य अभियंता श्री डीएस यादव, महाप्रबंधक श्री अजीत भास्कर तथा श्री केशवराव शाद उपस्थित थे।

 

स्वदेश दर्शन योजना के तहत बुद्धिस्ट स्थलों पर सुविधाएं

 

      म.प्र.राज्य पर्यटन विकास निगम द्वारा सांची में बुद्ध जम्बू द्वीप पार्क का निर्माण कार्य किया गया है। साथ ही पर्यटकों को सुविधा पहुंचाने के दृष्टिकोण से गेटवे रिट्रीट परिसर में पर्यटक सुविधा केन्द्र भी निर्मित किया गया है। इन दोनों मुख्य कार्यों का लोकार्पण किया जा रहा है। इसी योजना के अंतर्गत म.प्र. पर्यटन विकास निगम द्वारा सांची में सम्राट अशोक एवं महात्मा गौतम बुद्ध के जीवन पर आधारित थीम पर एक लाइट एण्ड साउण्ड शो का भी सुचारू संचालन किया जा रहा है।

 

17 एकड़ में फैला है बुद्ध जम्बू द्वीप थीम पार्क  

 

        म.प्र. पर्यटन विकास निगम द्वारा सॉची में 25 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित थीम पार्क लगभग 17 एकड़ में फैला हुआ है। संपूर्ण क्षेत्र को बाउंड्रीवाल से कव्हर किया गया है एवं एक वृहद् मुख्य द्वार टिकिट काउंटर एवं पार्किंग निर्मित की गई है। साथ ही इन्टरप्रिटेशन सेन्टर, कैफेटेरिया, जनसुविधा, मेडिटेशन कियोस्क, पाथवे पवेलियन, कनक सागर तालाब का सौन्दर्यीकरण, एम्फिथियेटर, बच्चों के खेलने का पार्क, संपूर्ण क्षेत्र में लॉन, वाटर स्प्रिंकलर सिस्टम, लाइटिंग इत्यादि कार्य किये गये हैं।

 

महात्मा बुद्ध के जीवन सिद्धांतों के अनुसार बनाया गया है थीम पार्क

 

थीम पार्क को महात्मा बुद्ध के जीवन सिद्धांतों के अनुसार रचना कर बनाया गया है। इसमें जीवन परिक्रमा पथ, चन्द्रवाटिका, अष्टांगिक मार्ग एवं जातकवन जिसमें बच्चों के लिये जातक कथायें एवं पजल्स भी हैं। पार्क में वाटर स्क्रीन थ्री डी प्रोजेक्शन मैपिंग की भी व्यवस्था विकसित की गई है। पर्यटकों को स्तूप तक लाने-ले जाने हेतु पर्यावरण के दृष्टिकोण से बैटरी चलित छोटे वाहन भी उपलब्ध कराये जा रहे हैं।

 

इन्टरपिटेशन सेन्टर

 

बुद्ध जम्बू द्वीप पार्क में इन्टरपिटेशन सेन्टर भी बनाया गया है। बुद्ध और बौद्ध धर्म का एक विस्तृत कालानुक्रमिक समय, इसका उद्धव, विस्तार और प्रसार सेन्टर की गैलरियों में प्रस्तुत किया गया है। इसमें प्रथम गैलरी में बुद्ध के जीवन के महान क्षण, द्वितीय गैलरी में बौद्ध कला और वास्तुकला, तृतीय गैलरी में भारत में बौद्ध धर्म का प्रसार और चतुर्थ गैलरी में एशिया में बौद्ध धर्म का प्रसार, प्रस्तुत किया गया है।

 

जीवन परिक्रमा पथ

 

बुद्ध के जीवन के चार महान क्षणों का प्रतिनिधित्व करने वाला एक परिक्रमा पथ 4 प्रतीकात्मक पेड़ों का उपयोग करके इन्टरपिटेशन सेन्टर के बाहर बनाया गया है। इसमें चार वृक्ष शाल, पीपल, अशोक और आम के वृक्ष रोपित किए गए है।

बुद्ध जम्बूद्वीप पार्क में अलग-अलग रंगों के पत्थर का उपयोग कर पाथवे और पवेलियन में प्रतीकात्मक रूप से बौद्ध धर्मानुसार जीवन के चार सत्य दुख, दुख का कारण, दुख का समापन और मार्ग को दर्शाया गया है। अन्तिम सत्य अष्टांग मार्ग है जो मानव के लिए प्रेरणादायी है।

 

पॉच करोड़ रू की लागत से बना है पर्यटक सुविधा केन्द्र

 

सॉची में पॉच करोड़ रूपए की लागत से बनाए गए पर्यटक सुविधा केन्द्र के अंतर्गत नवीन रेस्टोरेंट, रिसेप्शन, जनसुविधा, गार्डन, पार्किंग, बाउंड्रीवाल, स्टाफ चेन्ज रूम, बुद्धिस्ट कान्सेप्ट पर सम्पूर्ण परिसर का इंटीरियर कार्य एवं सांची गेट की पत्थरों से रिप्लिका, बाह्य विद्युतीकरण, पत्थरों से एप्रोच रोड, भव्य पोर्च एवं आर्ट वर्क किया गया है। जिससे सांची आने वाले पर्यटकों को स्तरीय सुविधायें उपलब्ध कराई जा सकें।

 

 

 

 

 

 

 

नोशे ख़ान 

Follow Us On You Tube