रायसेन

नोवल कोरोना वायरस से बचाव के लिए टोटल लाॅकडाउन की गंभीरता को समझें नागरिक कलेक्टर ने नागरिकों से की शासन-प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का पालन करने की अपील

रायसेन

रायसेन, 24 मार्च 2020
नोवल कोरोना वायरस कोविद-19 संक्रमण से बचाव के लिए कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने जिले के सभी नागरिकों से जिले में घोषित टोटल लाॅकडाउन तथा शासन-प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का पूरी तरह से पालन करने की अपील की है। कोरोना वायरस से भयभीत होने की आवश्यकता नहीं है। इससे हारना नहीं बल्कि जीतना है। आमजन इसकी गंभीरता को समझें, स्वयं सर्तक रहें तथा दूसरों को भी सर्तक करें।
कलेक्टर श्री भार्गव ने कहा है कि आम जनता के स्वास्थ्य, लोकहित तथा कोरोना वायरस संक्रमण की श्रृंखला तोड़ने के लिए जिले में 31 मार्च को रात्रि 12 बजे तक के लिए टोटल लॉकडाउन किया गया है। टोटल लाॅकडाउन की अवधि में आमजन अपने घर में ही रहें। आमजन घर में रहकर ही कोरोना वायरस के घातक संक्रमण से बचाव कर सकते हैं। टोटल लॉकडाउन की परेशानी से कहीं अधिक बड़ा खतरा और चुनौती कोरोना वायरस संक्रमण को रोकना है क्योंकि इसका अभी तक कोई कारगर उपचार नहीं है। इसलिए आमजन लॉकडाउन में पूरा सहयोग करके कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें। कोरोना वायरस की रोकथाम तथा नियंत्रण के लिए आमजन की सक्रिय भागीदारी आवश्यक है।
उन्होंने कहा कि विगत दिनों विदेश यात्रा अथवा अन्य राज्यों से जिले में आने वाले व्यक्ति तत्काल संबंधित थाने को सूचित करें तथा अपने स्वास्थ्य की जांच कराएं। कोरोना वायरस संक्रमण से स्वयं तथा परिवार को सुरक्षित रखने के लिए नियमित अंतराल के बाद 20 सेकण्ड तक साबुन से अच्छी तरह हाथ धोएं। एक-दूसरे का अभिवादन करने के लिए भारतीय परंपरा के अनुसार हाथ जोड़कर नमस्कार करें। कोरोना वायरस के बचाव के लिए सामाजिक दूरी आवश्यक है। किसी भी व्यक्ति से कम से कम 3 फिट की सुरक्षित दूरी बनाकर रखें। सर्दी-खाॅसी, बुखार या गले में खराश होने पर चिकित्सकों की सलाह तथा शासन के निर्देशों का पालन करें।
कलेक्टर श्री भार्गव ने आमजन से सोशल मीडिया के प्रति सजग रहने की अपील करते हुए कहा कि सोशल मीडिया में कोरोना वायरस संक्रमण के संबंध में आने वाली भ्रामक सूचनाओं एवं अफवाहों को फारवर्ड न करे। किसी भी सूचना की सत्यता की परख करने के बाद ही उस पर विश्वास करें। आपके द्वारा सोशल मीडिया पर दी गयी एक गलत सूचना कई व्यक्तियों और प्रशासन के लिए कठिनाई उत्पन्न कर सकती है। सोशल मीडिया में अफवाह फैलाने वाले पर कार्यवाही की जाएगी।

 

द्वारा- पी आर ओ रायसेन 

 

Follow Us On You Tube